Mon. May 20th, 2019

लोकतंत्र का महापर्व … चढ़ते पारे में वोटों की बारिश

-लगभग 59.60 प्रतिशत मतदान का अनुमान
-लोकतंत्र के महापर्व में मतदाताओं ने उत्साह से की भागीदारी 
-प्रशासनिक अधिकारी, न्यायाधीश, वरिष्ठ नागरिक और युवा मतदाता पहुँचे मतदान केन्द्र 
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज 
लोकसभा निर्वाचन के लिए जिले में शांतिपूर्ण तरीके से मतदान सम्पन्न हुआ। ग्वालियर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 03 में ग्वालियर जिले की 6 विधानसभा के साथ ही शिवपुरी जिले की 2 विधानसभा करैरा व पौहरी भी शामिल हैं। मतदान समाप्ति के बाद मिली प्रारंभिक जानकारी के अनुसार ग्वालियर लोकसभा क्षेत्र में मतदान का प्रतिशत 59.60 होने का अनुमान है। ग्वालियर संसदीय क्षेत्र के सभी मतदान केन्द्रों में डाले गए वोटों की वास्तविक जानकारी प्राप्त होने के बाद मतदान का प्रतिशत बढ़ने की संभावना है।
लोकसभा चुनाव में ग्वालियर संसदीय क्षेत्र में विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 14-ग्वालियर ग्रामीण में 55.79 प्रतिशत मतदान होने का अनुमान है। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 15-ग्वालियर का मतदान प्रतिशत 58.59,16-ग्वालियर पूर्व का मतदान प्रतिशत 54.36, 17-ग्वालियर दक्षिण का मतदान प्रतिशत 58ण्29ए 18.भितरवार का मतदान प्रतिशत 58.26 एवं 19-डबरा में लगभग 63.90 प्रतिशत मतदान अनुमानित है। इसी प्रकार शिवपुरी जिले की करैरा विधानसभा में 63.56 एवं पोहरी में 66.50 प्रतिशत मतदान का अनुमान है।

एमएलबी में मतदान दलों का स्वागत 
मतदान संपन्न होने के बाद मतदान दल शासकीय एमएलबी कॉलेज में मशीनें जमा करने पहुँचे। मतदान दलों का फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग चौधरी, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन एवं नगर निगम आयुक्त ने मतदान दलों का स्वागत किया।
लोकतंत्र के महापर्व में ग्वालियर जिले के मतदाताओं ने उत्साह के साथ भाग लिया। मतदान दिवस 12 मई को सुबह से ही शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की लम्बी-लम्बी कतारें देखी गईं। वरिष्ठ मतदाताए पहली बार मतदान करने वाले युवाओं, महिलाओं के साथ ही जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने भी अपने मतदान केन्द्र पर पहुँचकर मताधिकार का उपयोग किया। ग्वालियर में उच्च न्यायालय के न्यायाधीशगणों ने भी परिवार सहित मतदान केन्द्र पर पहुँचकर सामान्य मतदाता की तरह लाईन में लगकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। जिलेभर में शांति और सदभाव के साथ मतदान के महापर्व पर लोगों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

मतदान के दिन मौसम ने भी अपना रूख नरम रखा 
लोकसभा निर्वाचन के लिए 12 मई को हुए मतदान में मौसम ने भी अपना रूख नरम रखते हुए मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक पहुँचने में सहयोग प्रदान किया । ग्वालियर की भीषण गर्मी को देखते हुए 12 मई को मौसम में भी बदलाव देखने को मिला। सुबह से ही मौसम में बादल छाए रहे और तेज धूप नहीं निकली। इसके कारण तापमान कम रहा। कम तापमान के कारण भी मतदाता अपने मतदान केन्द्र पर पहुँचकर आसानी से मतदान कर सके।

वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों, न्यायाधीशों और वरिष्ठजनों ने सुबह ही किया मतदान 
लोकसभा निर्वाचन.2019 के लिए 12 मई को हुए मतदान में ग्वालियर शहर में सुबह 7 बजे से ही मतदाता अपने मतदान केन्द्र पर पहुचे। केन्द्रीय विद्यालय क्र.1 में उच्च न्यायालय के न्यायाधीश, आईजी राजाबाबू सिंह, राजस्व मण्डल के सदस्य बी एम शर्मा,राजस्व मण्डल के सचिव विनोद शर्मा, कलेक्टर अनुराग चौधरी, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन सहित प्रशासनिक अधिकारियों, न्यायधीशों एवं वरिष्ठजनों ने परिवार सहित पहुँचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया।

पहली बार मतदान करने की खुशियां भी मनाई मतदाताओं ने 
लोकसभा निर्वाचन में 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके नए मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग कर मतदान के पश्चात सेल्फी लेकर खुशियां मनाईं। ग्वालियर में ओल्ड रेस्ट हाउस में स्थापित आदर्श मतदान केन्द्र में शुभम सक्सेना एवं मिताली सक्सेना ने पहली बार मतदान किया। दोनों ही आईटी कंपनी दिल्ली में सेवारत हैं। उन्होंने मतदान के लिए ग्वालियर आकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। शुभम एवं मिताली का कहना था कि लोकतंत्र के इस महापर्व में अपने मतदान का उपयोग कर वे गर्व का अनुभव कर रहे हैं। उन्होंने सभी युवाओं से अपेक्षा की है कि वे अपने मताधिकार का उपयोग अवश्य करें।

महिलाओं के लिए बनाए गए सखी बूथ आकर्षण का केन्द्र बने 
लोकसभा निर्वाचन में महिला मतदाताओं के लिए महिलाओं के द्वारा ही संचालित सखी बूथ भी बनाए गए। सखी बूथों में महिला कर्मचारियों ने ही मतदान की सम्पूर्ण प्रक्रिया का क्रियान्वयन किया। शहर में महिलाओं द्वारा संचालित सखी बूथ जन आकर्षण का केन्द्र बने। 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर पहली बार मतदान करने पहुँचीं राखी शर्मा का कहना था कि महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केन्द्र में मतदान करने में कोई परेशानी नहीं हुई। महिलाओं के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा जो व्यवस्थाएं की गई हैं वे बहुत ही अच्छी थी। इस प्रकार की व्यवस्थाओं से महिलाओं के मतदान में बढ़ोत्तरी होगी।

सक्षम बूथ पर दिव्यांग मतदान दलों ने सफलतापूर्वक कराया मतदान 
ग्वालियर जिले में दिव्यांग मतदाताओं के उत्साहवर्धन हेतु सक्षम बूथ बनाए गए। इन सक्षम बूथों पर दिव्यांग अधिकारियों और कर्मचारियों ने मतदान दल के रूप में कार्य किया। इन केन्द्रों पर भी बड़ी संख्या में मतदाताओं ने पहुँचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया।

सिंधिया और अशोक सिंह ने किया मतदान
ग्वालियर ।सात चरणों में होने वाला लोकसभा चुनाव के लिए ग्वालियर में सुबह से मतदान केंद्रों के बाहर लंबी-लंबी कतारें और वोटर्स में काफी उत्साह रहा। कांग्रेसी के ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत अशोक सिंह, मेयर व बीजेपी उम्मीदवार विवेक शेजवलकर और चंबल अंचल के तमाम उम्मीदवारों ने अपने अपने बूथों पर पहुंचकर मतदान किया इससे पहले सभी उम्मीदवार भगवान की शरण में भी पहुंचे और जीत की कामना की।

कलेक्टर चौधरी ने मताधिकार का प्रयोग किया
ग्वालियर । ग्वालियर के केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 1 के पोलिंग बूथ क्रमांक 736 में कलेक्टर अनुराग चौधरी अपनी पत्नी के साथ मतदान करने पहुंचे। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने धर्मपत्नी श्रीमती खुशबू चौधरी के साथ मताधिकार का प्रयोग किया |

प्रभात झा ने किया मतदान
ग्वालियर । बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने भी आज अपने मत का प्रयोग किया। श्री झा ने अपनी पत्नी रंजना झा व सुपुत्र युवा नेता तुषमुल झा के साथ वोट डाला। झा परिवार ने ग्वालियर के मध्यखादी ग्रामोघोग जीवाजीगंज मतदान केन्द्र में सुबह ८ बजे अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस दौरान श्री प्रभात झा ने सभी मतदाताओं से अधिक से अधिक संख्या में मतदान करने की अपील भी की।

बुजुर्गों के उत्साह ने युवाओं को भी पीछे छोड़ा 
लोकसभा निर्वाचन के लिए जिले में 12 मई को मतदान किया गया। मतदान में हर वर्ग ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। महिला हों या पुरूष, युवा या बुजुर्ग मतदाता हों, सभी ने मतदान के महापर्व में अपनी भागीदारी की। बुजुर्गों के उत्साह ने युवाओं को भी पीछे छोड़ दिया। बुजुर्ग मतदान केन्द्र तक पहुँचे और खुशी से अपना वोट डाला। उन्होंने अन्य मतदाताओं को भी प्रेरित किया।
डबरा में 103 वर्षीय श्रीमती रामश्री बाई ठीक से चल-फिर भी नहीं सकती। परंतु मतदान करने का उत्साह ऐसा था कि वह स्ट्रेचर पर मतदान केन्द्र पहुँची। लेडी डॉक्टर की मदद से अपना मतदान किया। श्रीमती विजयंति माला की उम्र 92 वर्ष है। परंतु वोट डालने का उत्साह किसी से कम नहीं। उन्होंने ग्वालियर पूर्व क्षेत्र के ठाठीपुर स्थित शासकीय कन्या विद्यालय के मतदान केन्द्र पहुँचकर अपना वोट डाला। इसी प्रकार 84 वर्षीय श्रीमती शकुंतला ने जेसीमिल कन्या महाविद्यालय के मतदान केन्द्र में अपना वोट डाला। श्रीमती शकुंतला ने बताया कि वह कुछ दिनों पूर्व बैंगलोर में अपनी बेटी के यहाँ गईं थी। परंतु 12 मई को मतदान है और वोट भी देना है। इसलिए मतदान दिवस से पहले ही ग्वालियर वापस आ गईं। उनका कहना है कि वह कई वर्षों से वोट डाल रही हैं और जागरूक नागरिक होने के नाते हम सभी को वोट अवश्य करना चाहिए। इसी प्रकार 15-ग्वालियर क्षेत्र के निवासी बुजुर्ग मतदाता लक्ष्मीनारायण ने तानसेन रोड़ के शासकीय शिक्षा महाविद्यालय के मतदान केन्द्र पर अपना वोट डाला।

मौनी और निशा ने साझा की पहली बार मतदान करने की खुशी 
देश के नागरिक होने के नाते हम सभी का यह दायित्व है कि हम लोकतंत्र के इस महा त्यौहार में अपनी भागीदारी करें। यही बात मौनी और निशा ने अपना मतदान करने के बाद कही। मौनी और निशा बिरवइया ने इस बार पहली बार मतदान किया। 18 वर्ष की आयु पूरी कर लेने के बाद इस बार वोटर कार्ड बनवाया और अपना वोट भी डाला। वोट डालने के बाद बाहर निकलकर उन्होंने पहली बार मतदान करने की खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि युवा मतदाता के रूप में हमने पहली बार वोट डाला है और देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाई है। सभी मतदाता जरूर वोट करें।

शादी की रस्मों के बीच में मतदान करने पहुँचे दूल्हा.दुल्हन 
प्रजातंत्र में मतदान के महत्व को सभी मतदाता भलीभांति जानते है। ऐसे समय जब घर में दूल्हा और दुल्हन द्वारा शादी की रस्म रिवाजों को पूरा किया जा रहा था किन्तु बीच में समय निकालकर दूल्हा-दुल्हन वोट देने जरूर पहुँचे। कुम्हरपुरा निवासी वर्षा झा ने शादी की रस्मों के बीच मतदान केन्द्र पहुँचकर मतदान किया। वहीं पिछोर कन्या विद्यालय में दुल्हन ने अपना वोट डाला। मतदान केन्द्र क्र.105 सिरसा में दूल्हे ने पहले मतदान केन्द्र पहुँचकर अपना वोट डाला। फिर बारात की निकासी की गई।

दिव्यांगजनों ने कहा हम भी किसी से कम नहीं
दिव्यांगजनों के हौसले ने सभी मतदाताओं में जोश जरूर भरा । दिव्यांगजनों ने वोट डालकर अपनी जिम्मेदारी निभाई और यह भी संदेश दिया कि हम किसी से कम नहीं हैं। चंदनपुरा निवासी भारती बाथम और डबरा निवासी आकाश सहरिया ने व्हीलचेयर से मतदान केन्द्र पहुँचकर मतदान किया। डबरा में दिव्यांग कल्याण सिंह ने वॉलेन्टियर की सहायता से वोट डाला। दिव्यांगजनों को वाहनों एवं वॉलेन्टियर की सुविधा से सहज ढंग से मतदान कराने में मदद की गई, जिसकी दिव्यांग मतदाताओं ने सराहना भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *