Wed. Jun 26th, 2019

कमलनाथ के 22 सीट जीतने के दावे पर विजयवर्गीय ने कहा- वो 22 दिन सीएम रहेंगे या नहीं, इस पर प्रश्नचिन्ह?

इंदौर। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रदेश में 29 में से 22 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस की जीत के दावे पर तंज कसा। उन्होंने लोकसभा चुनाव बाद प्रदेश में कमलनाथ के मुख्यमंत्री बने रहने पर भी प्रश्नचिह्न लगा दिया। विजयवर्गीय ने कहा- चुनाव के बाद कमलनाथ 22 दिन मुख्यमंत्री रहेंगे या नहीं। इस पर भी प्रश्नचिन्ह है। 
विजयवर्गीय इंदौर में रविवार को मतदान करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने मीडिया से चर्चा की। उन्होंने भाजपा को पूर्ण बहुमत मिलने का दावा भी किया। इसके पहले भी विजयवर्गीय मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार के लोकसभा चुनाव के बाद बने रहने के संबंध में सवाल खड़े कर चुके हैं। वे पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रभारी हैं।
राहुल जी के विधायक बदलेंगे मुख्यमंत्री
किसानों के कर्ज माफी पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि राहुल जी ने दस दिन में कर्ज माफ करने को कहा था, अगर नहीं माफ हुआ तो मुख्यमंत्री बदलने की बात कही थी। लेकिन राहुल जी ने मुख्यमंत्री नहीं बदला तो अब वह काम उनके विधायक करेंगे। क्योंकि कांग्रेस के विधायकों को क्षेत्रों में घुसने नहीं दिया गया है।
साध्वी ने माफी मांग ली, मामला खत्म
साध्वी के गोडसे को लेकर दिए बयान पर प्रधानमंत्री मोदी की प्रतिक्रिया पर विजयवर्गीय ने कहा कि प्रधानमंत्री का बयान उनका निजी मामला है और गोडसे पर दिए बयान के बाद साध्वी ने भी माफी मांग ली। इसलिए अब ये विषय खत्म हो जाना चाहिए। विजयवर्गीय ने उनके इंदौर भाजपा प्रत्याशी के चुनाव प्रचार से दूर रहने के संबंध में उठ रहे सवालों पर कहा कि वे पश्चिम बंगाल में रैली के प्रबंध के लिए अपनी टीम के साथ वहां चले गए थे। उन्होंने दावा किया कि उनकी यहां मौजूदगी नहीं होने से इंदौर भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में कोई प्रतिकूल प्रभाव नही पड़ेगा।
अपनी चिंता करें कैलाश विजयवर्गीय
इधर, कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने विजयवर्गीय के बयान पर कहा कि कमलनाथ तो पूरे पांच वर्ष तक मुख्यमंत्री रहेंगे। सलूजा ने ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा- कमलनाथ पांच वर्ष ही नहीं, कांग्रेस की सरकार राज्य में अगले 15 वर्ष तक कमलनाथ जी के नेतृत्व में रहेगी। विजयवर्गीय अपनी चिंता करें, क्योंकि आगामी 23 मई के परिणाम के बाद उनका पश्चिम बंगाल के प्रभारी का पद जरूर खतरे में आ जाएगा। दीदी ममता बनर्जी ने धज्जियां बिखेर दी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *